कम नहीं हो रही फेसबुक की मुश्किलें, 14 फीसदी गिरा शेयर

नई दिल्ली: सोशल मीडिया सेवा प्रदान करने वाली कंपनी फेसबुक की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। कंपनी पर लगे डेटा लीक के आरोप के बाद लोगों ने तेजी से फेसबुक डिलीट करना शुरू कर दिया है। अब इस होड़ में कई बड़ी कंपनियां भी शामिल हो गई हैं। इन विवादों के चलते कंपनी को भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है। इस हफ्ते के अंत में कंपनी के शेयर में 14 फीसदी की गिरावट आई है। टेस्ला, स्पेस एक्स जैसी कई बड़ी कंपनियों ने अपना फेसबुक पेज डिलीट कर दिया है। वहीं मोजला ने फेसबुक से अपनी दूरी बना ली है।

कंपनी ने एक बयान जारी कर कहा था कि हम फेसबुक से फिलहाल दूरी बना रहे हैं। हमारे पेज पर अभी कुछ भी पोस्ट नहीं किया जाएगा। यहां तक कि फायरफॉक्स में फेसबुक को दिए जा रहे विज्ञापन पर भी रोक लगा दी है। इसके अलावा कॉमर्ज बैंक ने भी फेसबुक विज्ञापन पर रोक लगा दी है।

टेस्ला ने डिलीट किया पेज
गौरतलब है कि फेसबुक डेटा लीक और कैंब्रिज एनालिटिका के इसके इस्तेमाल के विरोध में लोगों ने फेसबुक अकाउंट और पेज डिलीट करना शुरू कर दिया है। लोग फेसबुक के विरोध में सोशल मीडिया पर #deletefacebok कैंपेन चला रहे हैं। जिसके बाद टेस्ला के सीईओ एलॉन मस्क (Elon Musk) ने स्पेस एक्स (Space X) और टेस्ला (Tesla) का फेसबुक पेज डिलीट कर दिया।

बता दें कि फेसबुक (Facebook) के यूजर्स के डेटा लीक की खबरों के बीच व्हाट्सएप (WhatsApp) के को-फाउंडर ब्रायन एक्टन ने यूजर से फेसबुक डिलीट करने की बात कही थी। ब्रायन ने एक ट्वीट कर कहा था कि यह फेसबुक को हटाने का समय आ गया है। साल 2014 में फेसबुक ने व्हाट्सएप का अधिग्रहण कर लिया था। डेटा लीक की बात सामने आने के बाद फेसबुक को कड़ी प्रतिक्रिया झेलनी पड़ रही है।

मार्क जुकरबर्ग ने मांगी माफी

हालांकि कैब्रिज एनालिटिका के साथ नाम आने के बाद फेसबुक के CEO मार्क जुकरबर्ग ने सफाई दी। उन्‍होंने इस मामले में गलती मानी और जोर देकर कहा कि यह फेसबुक की जिम्‍मेदारी है कि वह अपने यूजर्स के डेटा को सुरक्षित रखे। उन्‍होंने यह भी कहा कि अगर यह साइट ऐसा करने में नाकाम रहती है तो उसे सेवा देने का भी कोई अधिकार नहीं है।

Print Friendly, PDF & Email

You May Also Like

   

     

     
error: Content is protected !!