डिजास्टर ड्रिल के दौरान ट्रेनर ने दिया दूसरी मंजिल से छात्रा को धक्का

तमिलनाडु के कोयंबटूर में आपदा प्रबंधन की ट्रेनिंग के दौरान ट्रेनर की घोर लापरवाही के चलते ट्रेनिंग ले रही 19 साल की एक लड़की की मौत हो गई. जानकारी के मुताबिक, ट्रेनर ने लड़की को दूसरी मंजिल से धक्का दे दिया और नीचे गिरते ही लड़की ने दम तोड़ दिया. दहला देने वाली इस पूरी घटना का एक वीडियो भी सामने आया है.  पुलिस ने आरोपी ट्रेनर अरुमुगम को गिरफ्तार कर लिया है.

पुलिस ने बताया कि घटना गुरुवार की है और कोयंबटूर में स्थित एक प्राइवेट कॉलेज में घटी. जानकारी के मुताबिक, 19 वर्षीय लोगेश्वरी कोयंबटूर के बाहरी इलाके में स्थित नागम्मल कॉलेज ऑफ आर्ट्स एंड साइंस से BBA का कोर्स कर रही थी.

कोयंबटूर के ही अलंदुरई गांव की रहने वाली लोगेश्वरी की ट्रेनर की लापरवाही के चलते हुई मौत को लेकर पुलिस अब कॉलेज अथॉरिटीज और प्रिंसिपल से पूछताछ कर रही है. पुलिस ने बताया कि घटना के वक्त कॉलेज के लगभग 20 स्टूडेंट्स को आपदा प्रबंधन की ट्रेनिंग दी जा रही थी.

सामने आए वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि कॉलेज बिल्डिंग के दूसरी मंजिल के छज्जे पर छात्रा और ट्रेनर खड़े हैं. ट्रेनर ने एक रस्सी पकड़ रखी है और छात्रा से नीचे कूदने के लिए कह रहा है. लेकिन छात्रा कूदने में हिचक रही है.

लोगेश्वरी डरी हुई है और छज्जे पर बैठ जाती है. लोगेश्वरी की सुरक्षा के लिए नीचे कई स्टूडेंट्स नेट पकड़कर खड़े हैं. इस बीच ट्रेनर लोगेश्वरी को बार-बार कूदने के लिए उकसाता है और जब लोगेश्वरी खुद से नहीं कूदती तो ट्रेनर उसे धक्का दे देता है.

नीचे स्टूडेंट्स नेट पकड़कर खड़े हैं, लेकिन लोगेश्वरी पहली मंजिल के छज्जे से जा टकराती है. पहली मंजिल के छज्जे से टकराकर लोगेश्वरी जमीन पर गिर पड़ती है. जानकारी के मुताबिक, गिरते ही लोगेश्वरी की मौत हो जाती है.

लोगों ने बताया कि छात्रा को तुरंत अस्पताल पहुंचाया जाता है, लेकिन अस्पताल पहुंचने पर डॉक्टर उसे मृत घोषित कर देते हैं. वीडियो में यह भी साफ दिख रहा है कि लोगेश्वरी अभी ट्रेनिंग के लिए पूरी तरह तैयार नहीं थी. पुलिस ने बताया कि आरोपी ट्रेनर अरुमुगम के खिलाफ आईपीसी की धारा 304(2) के तहत लापरवाही से मौत का मामला दर्ज किया गया है.

Print Friendly, PDF & Email

You May Also Like

   

     

     
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: