दारोगा की पिस्टल लूट के बाद पड़ोसी के भतीजे को धमकाया,गन में थे आठ कारतूस,

लखनऊ । अवध चौराहे पर मंगलवार दोपहर दारोगा प्रमोद शुक्ला की पिस्टल लूटने के बाद बदमाश सलमान ने पड़ोसी जब्बार के घर पर फायरिंग की थी। दारोगा ने बताया कि गन की मैगजीन में कुल आठ कारतूस थे। जबकि पुलिस को मैगजीन से तीन कारतूस ही मिले हैं। फिलहाल बदमाश सलमान से पुलिस पूछताछ कर रही है। घटना के बाद से जब्बार के परिवारीजन दहशत में हैं। सुरक्षा के मद्देनजर जब्बार के घर के आस पास पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। पारा के सदरौना गाव निवासी जब्बार ने बताया कि मंगलवार(10 जुलाई) दोपहर भतीजा फजल हक कार से दुकान जा रहा था। तभी सलमान और उसके सात-आठ साथियों ने रास्ते में भतीजे की कार रोककर गाली-गलौज की।

भतीजा कुछ समझ पाता तबतक सलमान ने पिस्टल से उस पर फायर झोंक दिया। हालाकि वह बच गया। घटना से भतीजा डर गया और उसने एकाएक सलमान की बाइक में टक्कर मारी और भाग निकला। भतीजे ने कुछ देर बाद फोन कर सूचना दी और कहा कि सलमान ने उस पर हमला किया है। शाम को सलमान गाव आया और उसने घर पर पथराव शुरू कर दिया। दहशत में परिवारीजन घर के अंदर कमरों में छुप गए। इस बीच सलमान ने फायरिंग भी की। सूचना पर जबतक पुलिस मौके पर पहुंची। सलमान और उसके साथी भाग निकले।

क्या कहना है पुलिस का ?

इंस्पेक्टर मानक नगर संतोष कुमार कुशवाहा ने बताया कि दारोगा की बरामद पिस्टल की मैगजीन से तीन कारतूस मिले हैं। सलमान वाहन चेकिंग के दौरान कनौसी पुल के नीचे पिस्टल और बाइक दोनों छोड़ भाग निकला था। बाइक और पिस्टल कब्जे में ले ली गई है।

बिजली का तार हटाने को लेकर पड़ोसी के घर पर किया हमला:

तीन दिन पहले रविवार (8 जुलाई) को सदरौना गाव में बिजली के खंभे से तार हटने के विवाद में सलमान का पड़ोसी जब्बार से झगड़ा हुआ था। तब सलमान ने अपने परिजन के साथ जब्बार के घर पर हमला बोल दिया था। पुलिस ने मामले में सलमान समेत 16 लोगों के खिलाफ गंभीर धाराओं में मुकदमा तो दर्ज किया लेकिन कोई गिरफ्तारी नहीं की थी। जब्बार के मुताबकि, रविवार रात उनके घर पर बिजली नहीं आ रही थी। सब स्टेशन से कर्मचारी को बुलाकर वह लाइट ठीक करा रहे थे। इस दौरान सलमान ने अपने साथियों और परिवारीजन के साथ मिलकर हमला बोल दिया। इस दौरान आरोपितों ने पथराव भी किया। इस हमले में पीड़ित के चचेरे भाई अय्यूब अली के घर की खिड़की के शीशे भी टूट गए थे। शोर सुनकर परिवारीजन बचाव में दौड़े तो हमलावरों ने उन्हें भी पीट दिया।

हमले में चाचा एखलाक, बेटा सादाब, शान, तौफीक, फैजान के अलावा फरहान और अन्य परिवारीजन चोटिल हो गए। शोर सुनकर मोहल्ले वाले दौड़े तो हमलावर भाग निकले। मौके पर पहुंची पुलिस ने घायलों को अस्पताल भेजा। इसके बाद सोमवार को पुलिस ने तहरीर के आधार पर सलमान, फिरोज, अफजाल खान, इमरान, इजहार, आफताब, समीर, साधमान, रियाज, ऐजाज, मेराज, आफतार, साहिल, अबरार, इफ्तेखार उर्फ मुन्ना और राज के खिलाफ बलवा, धमकी, जानलेवा हमला, मारपीट समेत अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज किया था। घटना के दो दिन बाद तक पुलिस ने किसी आरोपित को नहीं गिरफ्तार किया। उधर, रिपोर्ट दर्ज होने के बाद से हमलावर लगातर धमकी दे रहे थे और पुलिस हाथ पर हाथ धरे बैठी रही। इंस्पेक्टर पारा अखिलेश चंद्र पाडेय ने बताया कि हमलावरों को जल्द पकड़ लिया जाएगा।

Print Friendly, PDF & Email

You May Also Like

   

     

     
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: