अशोक गहलोत ने क्यों कहा- बिहार में राजद के साथ गठबंधन कांग्रेस की मजबूरी

पटना : बिहार की  राजधानी पटना में कांग्रेस के दिग्गज नेता अशोक गहलोत के एक बयान ने सियासी सरगर्मी को और तेज कर दी है. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने  गुरुवार को पटना में कहा कि आज राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के साथ गठबंधन कांग्रेस की मजबूरी है. अशोक गहलोत ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं से रूबरू होते हुए कहा कि ‘समय की मांग के कारण कांग्रेस को गठबंधन करना पड़ रहा है, नहीं तो किसी जमाने में कांग्रेस अकेले ताकतवर पार्टी थी. आज वह स्थिति नहीं है कि कांग्रेस अकेले दम पर सरकार बना ले.हालांकि, उन्होंने बाद में यह भी कहा,राजद से हमारा गठबंधन है और हमेशा ही रहेगा.

अशोक गहलोत ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के एनडीए में चले जाने के निर्णय को गलत बताते हुए कहा आज वे सांप्रदायिक ताकतों के साथ खड़े हैं. उन्हें इसके लिए एक दिन पछतावा होगा. आज सबको पता है कि नीतीश भाजपा के साथ सहज नहीं हैं.” गहलोत ने संगठन को एकबार फिर से मजबूत करने पर जोर देते हुए कार्यकर्ताओं से कहा कि कांग्रेस को अकेले सरकार में लाने की कोशिश होनी चाहिए.

उन्होंने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के बिहार दौरे पर भारी खर्च किए जाने पर कटाक्ष करते हुए कहा कि ईमानदारी का चोला पहनने वाले भाजपा के लोगों को यह बताना चाहिए शाह के इस दौरे पर खर्च करने के लिए पैसे कहां से आए. बता दें कि गुरुवार को एक ओर जहां बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह पटना में सीएम नीतीश कुमार से मिलने के लिए मौजूद थे. वहीं दूसरी ओर अशोक गहलोत पटना में कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ मीटिंग में मौजूद थे.

Print Friendly, PDF & Email

You May Also Like

   

     

     
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: