योगी सरकार की पहली वर्षगांठ पर बोले राज्यपाल- इन्वेस्टर्स समिट बुलाना हिम्मत की बात है

साल भर पूरा होने को लेकर योगी सरकार ने सोमवार को लोकभवन में कार्यक्रम आयोजित किया. इस दौरान राज्यपाल राम नाईक ने योगी सरकार की जमकर प्रशंसा की. राज्यपाल राम नाईक ने कहा कि एक साल में जिस प्रकार यूपी सरकार ने काम किया और इस कार्यक्रम का आयोजन किया, मैं उसका स्वागत करता हूं. राज्यपाल ने कहा कि मैं भी जनप्रतिनिधि रहा. आज 3 साल से राज्यपाल हूं. हर साल अपना कार्यवृत्त प्रस्तुत करता हूं. योगी आदित्यनाथ की सरकार ने भी ऐसा किया. उन्होंने पहले 100 दिन, फिर 6 माह और फिर 1 साल में अपना रिपोर्ट कार्ड दिया. मैं योगी आदित्यनाथ सरकार का अभिनंदन करता हूं.

राज्यपाल ने कहा कि पिछली सरकार भी मेरी थी, ये सरकार भी मेरी है. कभी सरकार नहीं मानती, कभी मानती है. ऐसा यूपी स्थापना दिवस को लेकर हुआ. राज्यपाल ने कहा कि इन्वेस्टर्स समिट बुलाना हिम्मत की बात है. क्योकि उद्योगपति को ऊर्जा, आधारभूत ढांचा चाहिए, कानून व्यवस्था ठीक नहीं होगी तो कौन आएगा? इतनी बड़ी संख्या में उद्योगपतियों के यूपी आ कर निवेश के MOU का हस्ताक्षर करना बड़ी बात है. यानी लोगों को विश्वास हुआ है. राज्यपाल ने कहा कि अगर ऐसे ही काम हुआ तो यूपी देश का सबसे बड़ा ही नहीं, उत्तम राज्य भी बनेगा.

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने सोमवार को अपने कार्यकाल के एक वर्ष पूरा होने पर लखनऊ स्थित लोकभवन में एक साल नई मिसाल के रूप में कार्यक्रम का आयोजन किया. कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमने अंत्योदय के सपने को साकार करने के लिए एक वर्ष में काम किया. सीएम योगी के साथ राज्यपाल राम नाईक और प्रदेश सरकार के तमाम मंत्री, विधायक उपस्थित रहे.

इस दौरान सीएम योगी ने कहा कि पार्टी ने विधानसभा चुनाव से पहले एक लोक कल्याण संकल्प पत्र जारी किया था जो जनता की आकांक्षाओं का द्योतक थी. योगी ने कहा कि यूपी की राजनीति भ्रष्टाचार, जातिवाद और परिवारवाद के लिए बदनाम थी, लेकिन हमारी सरकार आने के बाद पहली बार दलित, वंचित कमजोर आदमी भी सरकार के एजेंडे का विषय बन सकता है, यह हमने करके दिखाया.

Print Friendly, PDF & Email

You May Also Like

   

     

     
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: