UP में 24 घंटों के अंदर ताबड़तोड़ 8 एनकाउंटर, 2 अपराधी ढेर और 16 गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश पुलिस ने ‘मिशन क्लीन’ के तहत बीते 24 घंटे के अंदर अपराधियों के साथ ताबड़तोड़ 8 एनकाउंटर किए. इस दौरान पुलिस ने नोएडा और सहारनपुर में दो इनामी बदमाशों को मार गिराया, जबकि 16 शातिर बदमाश गिरफ्तार हुए हैं.

नोएडा में हुए पुलिस मुठभेड़ के दौरान पुलिस ने एक लाख के इनामी बदमाश सरवन के पास से एके-47 बरामद किया है. वहीं गाजियाबाद पुलिस ने एक ही रात में पुलिस मुठभेड़ में 3 इनामी बदमाशों को गिरफ्तार किया है, जबकि ग्रेटर नोएडा और नोएडा में पुलिस मुठभेड़ में 1 लाख का इनामी बदमाश ढेर हो गया, तो 25 हजार का इनामी बदमाश घायल हो गया. उधर मुजफ्फरनगर में पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ में 10-10 हजार के दो इनामी बदमाशों को गोली लगी है, जबकि अलीगढ़ में मुठभेड़ के बाद 6 बदमाश गिरफ्तार किए गए हैं.

मुजफ्फरनगर में पुलिस की फायरिंग में दो शातिर बदमाशों घायल हुए हैं. इस मुठभेड़ में एक दरोगा को भी गोली लगी है. तीनों घायलों को उपचार के लिए सीएचसी में भर्ती कराया गया है. इन बदमाशों पर लूट, हत्या और डकैती के दर्जनों मामले दर्ज हैं. इसके अलावा अलीगढ़ में थाना सिविल लाइन पुलिस ने मुठभेड़ के दौरान आधा दर्जन से ज्यादा आपराधियों को दबोचा, जबकि 4 फरार हो गए.

सहारनपुर में पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हुई. मुठभेड़ के दौरान पुलिस ने पश्चिम यूपी के आतंक के पर्याय बन चुके 25 हजार के इनामी एहसान उर्फ सलीम की गोली लगने से मौत हो गई. दोनों तरफ से हुई कई राउंड की फयरिंग में एक दरोगा भी गोली लगने से घायल हो गया, जिसे गंभीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

यूपी में एनकाउंटर का आंकड़ा
उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के 11 महीने के कार्यकाल में अब तक प्रदेश में पुलिस और अपराधियों के बीच 1350 एनकाउंटर हो चुके हैं. इस दौरान 3091 अपराधी गिरफ्तार किए जा चुके हैं. वहीं, 43 को पुलिस ने मार गिराया. पश्चिम उत्तर प्रदेश में इस मामले में सबसे आगे रहा.

बदमाशों में एनकाउंटर का खौफ
बीते दिनों शामली के झिंझाना इलाके में एनकाउंटर के डर से हत्यारोपी ने खुद थाने पहुंचकर सरेंडर किया था. हत्यारोपी ने एसपी अजय पाल शर्मा को एक शपथ पत्र दिया है, जिसमें लिखा है कि वह भविष्य में किसी भी अपराध में शामिल नहीं होंगे.

थाने पहुंचकर इनामी बदमाश ने सरेंडर किया
वहीं हापुड़ में 15 हजार इनामी एक बदमाश ने थाने पहुंचकर सरेंडर कर दिया. बदमाश की पहचान अंकित के रूप में हुई है. शामली के कैराना में भी योगी सरकार के एनकाउंटर का असर देखने को मिला, जहां पिछले महीने दो सगे भाई अपने हाथ में पोस्टर लेकर घूमते नजर आए. उस पोस्टर पर लिखा था कि वे लोग अबसे अपराध नहीं करेंगे.

Print Friendly, PDF & Email

You May Also Like

   

     

     
error: Content is protected !!