दोस्त होकर भी सचिन के साथ ये क्या कर गए कांबली, देखें क्या है इसकी हकीकत

मुंबई टी-20 लीग की अवॉर्ड सेरेमनी के दौरान सचिन और कांबली के बीच की दोस्ती फिर नजर आई।
स्पोर्ट्स डेस्क.मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंडुलकर और उनके बचपन के दोस्त रहे विनोद कांबली के बीच रिश्ते तो काफी पहले सुधर गए थे। इसके बाद हाल ही में ऐसा कुछ हुआ कि दोनों की दोस्ती को लेकर एकबार फिर खबरें बनने लगी हैं। ये वाकिया मुंबई में खेली गई टी20 लीग के दौरान हुआ, जब कांबली ने सचिन के पैर छू लिए। गावसकर की वजह से हुआ ऐसा….

हाल ही में मुंबई टी-20 लीग का फाइनल खेला गया। जिसकी अवॉर्ड सेरेमनी के दौरान सचिन और कांबली के बीच की दोस्ती और उनके बीच का प्यार फिर नजर आया।
फाइनल मैच में लायंस टीम को हार का सामना करना पड़ा। जिसके मेंटर खुद विनोद कांबली हैं। मैच के बाद हुई सेरेमनी में सुनील गावसकर प्लेयर्स और टीम मेंबर्स को मेडल दे रहे थे।

इसी दौरान जब रनरअप टीम के मेंटर के रूप में विनोद कांबली मेडल लेने पहुंचे, तो गावसकर ने खुद उन्हें मेडल पहनाने की बजाए सचिन उसे पकड़ा दिया और कहा कि आप ही अपने दोस्त को ये मेडल दें।
इससे पहले की सचिन मेडल पहनाते, कांबली ने झुककर उनके पैर छू लिए। अचानक हुई इस घटना से सचिन भी हैरान रह गए, हालांकि उन्होंने तुरंत ही कांबली को ऊपर उठाते हुए उन्हें गले लगा लिया।

सचिन के कहने पर कोचिंग दे रहे कांबली

विनोद कांबली ने हाल ही में अपनी क्रिकेट एकेडमी शुरू की है। जिसकी लॉन्चिंग के मौके पर उन्होंने बताया था कि ये काम उन्होंने अपने दोस्त सचिन तेंडुलकर के कहने पर ही शुरू किया है।
कांबली के मुताबिक, ‘सचिन को पता है कि मुझे क्रिकेट से कितना प्यार है। इसलिए उन्होंने मुझसे कोचिंग शुरू करते हुए एक बार फिर क्रिकेट फील्ड पर लौटने के लिए कहा।’

Print Friendly, PDF & Email

You May Also Like

   

     

     
error: Content is protected !!