टेस्ट टीम पर विराट के इस बयान से धोनी के चहेते अश्विन-जडेजा के करियर पर मंडराया ‘संकट’

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली के नए बयान ने इंडियन खेमे की बेचैनी बढ़ा दी है. टीम इंडिया का स्पिन डिपार्टमेंट इंग्लैंड में कमाल कर रहा है. ऐस में विराट कोहली ने कहा है, इंग्लैंड के खिलाफ पांच टेस्ट मैचों की आगामी सीरीज में भी अपने ‘ट्रंपकार्ड’ कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल को उतार सकते हैं, जिन्होंने सीमित ओवरों के मैचों में उम्दा प्रदर्शन किया है. कुलदीप दो टेस्ट खेल चुके हैं, लेकिन चहल ने अभी 5 दिवसीय क्रिकेट नहीं खेला है. कोहली ने पहला वनडे जीतने के बाद कहा, ‘टेस्ट टीम के चयन में कुछ भी संभव है और कुछ सरप्राइज भी हो सकते हैं. कुलदीप का दावा पुख्ता है और चहल का भी, जिस तरह से इंग्लैंड के बल्लेबाजों को उन्हें खेलने में परेशानी हो रही है, हम उन्हें उतार भी सकते हैं.’

उन्होंने कहा, ‘लेकिन अभी फोकस अगले दो मैचों पर है, खासकर अगले मैच पर. मौसम शानदार है और दर्शक भी. यह दौरा लंबा है और आगे हमें काफी कठिन क्रिकेट खेलना है.’ कोहली ने कुलदीप के अलावा नाबाद 137 रन बनाने वाले उपकप्तान रोहित शर्मा की भी तारीफ की. उन्होंने कहा, ‘बीच के ओवरों में कलाई के स्पिनरों की भूमिका अहम होगी. बीच के ओवरों में अधिक समय देने से वे और धारदार गेंदबाजी करेंगे. कुलदीप का प्रदर्शन शानदार रहा. मैंने पिछले कुछ अर्से में वनडे क्रिकेट में ऐसी गेंदबाजी नहीं देखी.

अश्विन और जडेजा के लिए खड़ी हो सकती हैं मुश्किलें

टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली के इस बयान से टीम से बाहर चल रहे रविंद्र जडेजा और आर अश्विन के करियर पर संकट के बादल मंडराते हुए लग रहे हैं. ये दोनों खिलाड़ी वनडे और टी20 से पहले ही बाहर चल रहे हैं. ऐसे में अगर टेस्ट में भी कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल ने अपनी जगह पक्की कर ली तो ये दोनों खिलाड़ियों को फिर किसी भी फॉर्मेट में जगह मिलना आसान नहीं होगा. इन दोनों खिलाड़ियों को धोनी का पसंदीदा खिलाड़ी माना जाता है. रविंद्र जडेजा तो आईपीएल में भी धोनी की टीम चेन्नई से खेलते हैं. अश्विन भी धोनी की टीम से खेलते थे, लेकिन अब वह पंजाब टीम के कप्तान बन चुके हैं.

उन्होंने कहा, ‘रोहित ने लंबे समय तक बल्लेबाजी की और फिनिशर की भूमिका निभाई.’ इंग्लैंड के कप्तान इयोन मोर्गन ने कहा कि उनके बल्लेबाजों को सीरीज में वापसी के लिये भारतीय स्पिनरों को बेहतर ढंग से खेलना होगा. उन्होंने कहा, ‘भारत के खिलाफ स्पिनरों को खेलना चुनौतीपूर्ण है. हम इस मैच में अच्छा नहीं खेल सके. हमें एक टीम के रूप में बेहतर प्रदर्शन करना होगा और अपनी कमजोरियों से पार पाना होगा.

Print Friendly, PDF & Email

You May Also Like

   

     

     
error: Content is protected !!
%d bloggers like this: