धोनी को किस बात पर आता है गुस्सा? रैना ने खोला राज

नई दिल्ली। मैदान पर हमेशा ‘मिस्टर कूल’ रहने वाले महेंद्र सिंह धोनी को भी गुस्सा आता है। मैदान पर भले ही वह दूसरे खिलाड़ियों की तरह इसे बार-बार जाहिर नहीं करते लेकिन उनके हाव-भाव कई बार पूरी कहानी बता देते हैं। टीम इंडिया के सबसे सफल कप्तानों में शुमार रहे धोनी आईपीएल में चेन्नई सुपरकिंग्स की कप्तानी कर रहे हैं और इस सीजन में कुछ मौके आए हैं, जब धोनी ने अपनी नाराजगी जाहिर की है। कई बार तो मैच के बाद प्रेजेंटेशन में अपनी बातों से वह अपनी नाराजगी जाहिर कर चुके हैं।

कुछ महीनों पहले दक्षिण अफ्रीकी दौरे पर भी एक टी20 मैच में उन्होंने बैटिंग करते समय मनीष पांडे पर नाराजगी जताई थी जब मनीष एक रन के मौके को गंवा बैठे थे। बहरहाल, आईपीएल के मौजूदा सीजन में चेन्नई सुपरकिंग्स और धोनी की नजरें एक बार फिर खिताब पर हैं।

इन सबके बीच भारतीय क्रिकेट में धोनी के सबसे करीबी माने जाने वालों में से एक सुरेश रैना ने बताया है कि धोनी आईपीएल के इस सीजन में कई मौकों पर नाराज क्यों नजर आए। रैना ने कहा है कि चूकी टीम प्लेऑफ में पहुंच चुकी है इसलिए धोनी चाहते हैं कि अब छोटी-छोटी गलतियो को फिर नहीं दोहराया जाए, जो अगले दौर में टीम पर ज्यादा भारी पड़ सकता है।

धोनी को दरअसल गुस्सा तब आता है कि जब गेंदबाज एक ही गलती बार-बार करते हैं। इंडिया टुडे के अनुसार रैना ने कहा, ‘गेंदबाजों को हमेशा योजना के बारे में बताया जाता है कि हमें करना क्या है। एक पेशेवर क्रिकेटर के तौर पर आपको ये करना ही है।’

रैना ने कहा, ‘मैं जानता हूं कि मुझे मैदान पर क्या करना है लेकिन कप्तान से सलाह लेने के बाद, खासकर गेंदबाज अगर सही लंबाई की गेंद नहीं डाल रहे और अतिरिक्त रन दे रहे हैं तो इससे आप परेशान हो सकते हैं। इसलिए वह (धोनी) कहते रहते हैं कि हमें अपने खेल को और सुधारना होगा। उन्होंने हमेशा प्रेस कॉन्फ्रेंस में भी ये बातें कही हैं। वह उनसे (गेंदबाजों से) बहुत उम्मीद कर रहे हैं। अगला दौर प्लेऑफ का है और वहां आप कोई गलती नहीं कर सकते।’

बता दें कि आईपीएल-2018 में फिलहाल सनराइजर्स हैदराबाद और चेन्नई सुपरकिंग्स की टीमें प्लेऑफ में पहुंच चुकी हैं। चेन्नई सुपरकिंग्स दो साल बाद आईपीएल खेल रही है और 2010, 2011 के बाद उसकी नजरें तीसरी बार खिताब जीतने पर है।

Print Friendly, PDF & Email

You May Also Like

   

     

     
error: Content is protected !!