बैलेट पेपर से चुनाव कराने के बीजेपी ने दिए संकेत, सभी राजनीतिक दलों की सहमति से होगा विचार

भारतीय जनता पार्टी ने ईवीएम पर उठने वाले सवालों के बीच बैलेट पेपर से चुनाव कराने की सहमति जताई है। बीजेपी ने कहा कि अगर सभी दलों के बीच सहमति बनती है तो भविष्य में देश में एक बार फिर बैलेट पेपर पर चुनाव कराए जा सकते हैं।

दरअसल, शनिवार को कांग्रेस ने अपने 84वें महाधिवेशन में बैलेट पेपर से चुनाव कराने का प्रस्ताव आया था। वहीं इस बारे में बीजेपी के महासचिव राम माधव ने कहा कि कांग्रेस को याद रखना चाहिए, जब देश में ईवीएम से चुनाव कराए गए थे। तब सभी दलों की सहमति के बाद ही ईवीएम का इस्तेमाल किया गया था और अब अगर देश के सभी राजनीतिक दल सोचतीं हैं कि फिर  से बैलेट पेपर से चुनाव होना चाहिए इस पर विचार किया जा सकता है।

एक बार फिर अखिलेश ने ईवीएम पर उठाए सवाल
2014 में हुए आम चुनाव में बीजेपी की जीत के बाद विपक्ष ने ईवीएम पर सवाल उठाए थे। वहीं गुजरात में हुए विधानसभा चुनाव में भी ईवीएम में गड़बड़ी के आरोप लगे थे। गोरखपुर और फूलपुर में हुए उपचुनावों के बाद सपा प्रमुख अखिलेश ने कहा था कि अगर ईवीएम में गड़बड़ी न होती तो हमारी जीत का अंतर और अधिक होता।

2017 में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव की 403 सीटों में से बीजेपी के खाते में 325 सीटें जीतने पर अखिलेश यादव समेत कई विपक्षी दलों ने ईवीएम में गड़बड़ी का आरोप लगाया था।

Print Friendly, PDF & Email

You May Also Like

   

     

     
error: Content is protected !!