योगी आदित्यनाथ से मिले मुलायम सिंह यादव

लखनऊ
समाजवादी पार्टी के संरक्षक और सांसद मुलायम सिंह यादव ने बुधवार दोपहर सीएम योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की। करीब आधे घण्टे की मुलाकात के दौरान मुलायम ने सुप्रीम कोर्ट के पूर्व मुख्यमंत्रियों से आवास खाली करवाने वाले आदेश को लेकर बातचीत की। सूत्रों का कहना है कि मुलायम ने सीएम से बंगला बचाने के लिए कोई रास्ता निकालने को कहा है।

आपको बता दें सुप्रीम कोर्ट ने छह पूर्व मुख्यमंत्रियों मुलायम सिंह यादव, अखिलेश यादव, राजनाथ सिंह, कल्याण सिंह, एनडी तिवारी और मायावती से सरकारी बंगला खाली करने को कहा है। राज्य संपत्ति विभाग उनका मकान खाली कराने की तैयारी कर रहा है। सूत्रों के अनुसार, मुलायम और सीएम के बीच चर्चा के दौरान यह भी कहा गया कि अगर मुलायम और अखिलेश के सरकारी बंगले विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष राम गोविंद चौधरी और विधानपरिषद में नेता प्रतिपक्ष अहमद हसन के नाम कर दिए जाएं तो आवास बच सकते हैं। यह भी चर्चा हुई कि कल्याण सिंह का आवास उनके पोते और राज्यमंत्री संदीप सिंह को आवंटित कर दिया जाए।

नोटिस तैयार, सीएम के आदेश का इंतजार

राज्य सम्पत्ति विभाग ने सभी पूर्व मुख्यमंत्रियों को देने के लिए नोटिस तैयार कर लिया है। इस पर न्याय विभाग की सहमति भी आ गई है। अब सीएम की मंजूरी के बाद ही इसे सभी पूर्व सीएम को भेजा जाएगा।

मुलायम सिंह यादव के बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और पीएम नरेंद्र मोदी से अच्छे रिश्ते हैं। 2014 में प्रधानमंत्री के तौर पर नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में मुलायम पीछे बैठे थे लेकिन अमित शाह मुलायम को हाथ पकड़कर आगे लाए। उन्होंने मुलायम को आगे बैठाया। पिछले साल 19 मार्च को बतौर सीएम, योगी के शपथग्रहण समारोह में मंच पर ही मुलायम और प्रधानमंत्री मोदी की बातचीत काफी चर्चा में रही थी। सैफई में मुलायम के पौत्र तेज प्रताप की शादी में भी मोदी गए थे।

सूत्रों के मुताबिक कहा जा रहा है कि मुलाक़ात के दौरान अपना और बेटे अखिलेश के सरकारी बंगले को बचाने के लिए मुलायम ने सीएम योगी को एक फ़ॉर्मूला भी दिया है. जिसके मुताबिक मुख्यमंत्री विधानसभा और विधानपरिषद में नेता प्रतिपक्ष के नाम दोनों बंगले आवंटित किए जाएं. विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी और विधान परिषद में नेता प्रतिपक्ष अहमद हसन के नाम बंगला आवंटित होने से दोनों के आवास बच सकते हैं. हालांकि अभी यह नहीं पता चला है कि मुलायम के इस प्रस्ताव पर सीएम योगी ने क्या कहा.

माना जा रहा है कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद पैदा हालात को लेकर और दूसरा रास्ता निकालने को लेकर चर्चा हुई. बता दें कि 7 मई को दिए अपने आदेश में सुप्रीम कोर्ट ने पूर्व मुख्यमंत्रियों को आवंटित बंगलों को अवैध करार देते हुए खाली करने का आदेश दिया है. जिसके बाद राज्य सरकार कोर्ट के आदेश का अनुपालन करते हुए सभी पूर्व मुख्यमंत्रियों को बंगला खाली करने का नोटिस जारी करने वाली है. जिसकी प्रक्रिया जारी है.

Print Friendly, PDF & Email

You May Also Like

   

     

     
error: Content is protected !!